घटना-दुर्घटनादेश-दुनिया
Trending

शॉर्ट सर्किट से जिला अस्पताल में लगी आग, 10 नवजात बच्चों की मौत

यह दर्दनाक घटना (Bhandara Tragedy) महाराष्ट्र के भंडारा जिले का है। जहां जिला अस्पताल में देर रात शॉर्ट सर्किट की वजह से सिक न्यूबॉर्न केयर यूनिट (SNCU) में आग लग गई।

www.media24media.com

महाराष्ट्र के भंडारा जिले में बीती रात एक दर्दनाक हादसा हुआ है। जहां एक सरकारी अस्पताल में आग लगने से 10 नवजात बच्चों की मौत (Bhandara Tragedy) हो गई है। जिला अस्पताल के सिविल सर्जन डॉक्टर प्रमोद खंडाते (Civil Surgeon Doctor Pramod Khandate) ने बताया कि अस्पताल के न्यू बोर्न नेटल वार्ड में 17 नवजात को रखा गया था। शनिवार देर रात एक नर्स को इस वार्ड से धुआं निकलता हुआ दिखाई दिया, जिसके बाद इस हादसे के बारे में पता चला।

राजधानी में फिर मिली एक जली लाश, देखकर दहल गया लोगों का दिल, जांच में जुटी पुलिस

यह दर्दनाक घटना (Bhandara Tragedy) महाराष्ट्र के भंडारा जिले का है। जहां जिला अस्पताल में देर रात शॉर्ट सर्किट की वजह से सिक न्यूबॉर्न केयर यूनिट (SNCU) में आग लग गई। इस वार्ड में कुल 17 बच्चे थे. धुआं निकलते देख नर्स और अस्पताल के लोग दौड़कर वार्ड पहुंचे, लेकिन तब तक 10 नवजात (10 newborn died in Maharashtra) बच्चों की मौत हो चुकी थी।

7 बच्चों की बचाई गई जान

बता दें कि इस वार्ड में उन्हीं बच्चों को रखा जाता है, जिनकी हालत नाजुक होती है, जिनका वजन भी बहुत कम होता है। जानकारी के मुताबिक SNCU में धुआं उठते देख ड्यूटी पर मौजूद नर्स ने वार्ड का दरवाजा खोला और फौरन अस्पताल के अधिकारियों को बताया, जिसके बाद मौके पर पहुंची फायर ब्रिगेड (fire brigade) ने अस्पताल में लोगों की मदद से रेस्क्यू ऑपरेशन (Rescue operation) शुरू किया, जिसमें 7 बच्चों को बचा लिया गया।

बर्ड फ्लू की रोकथाम के लिए रेपिड रिस्पांस टीम गठित, सतर्कता बरतने के निर्देश

इधर नवजात बच्चों (Fire incident in Maharashtra Bhandra) की इस दर्दनाक मौत के बाद उनके परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। अस्पताल के बाहर लोगों की भीड़ जमा हो गई है। लोग आग लगने की घटना की जांच किए जाने की मांग कर रहे हैं। कई लोग इसे अस्पताल की लापरवाही (Hospital negligence) बता रहे हैं।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close