Chhattisgarh Newsअपराध जगतगरियाबंदछत्तीसगढ़छत्तीसगढ़ न्यूजधमतरी
Trending

वन विभाग की ताबड़तोड़ कार्रवाई, चीतल के शिकार के मामले में 8 गिरफ्तार, 4 आरा मिलों में छापेमारी

वन मंत्री मोहम्मद अकबर के निर्देशानुसार राज्य में वन विभाग द्वारा अवैध लकड़ी की कटाई, परिवहन और वन्य प्राणियों के अवैध शिकार की रोकथाम (Poaching prevention) के लिए लगातार अभियान चालाया जा रहा है।

www.media24media.com

वन मंत्री मोहम्मद अकबर (Forest Minister Mohammad Akbar) के निर्देशानुसार छत्तीसगढ़ वन विभाग द्वारा अवैध लकड़ी की कटाई, परिवहन और वन्य प्राणियों के अवैध शिकार की रोकथाम के लिए लगातार अभियान चालाया जा रहा है। इस कड़ी में गरियाबंद वनमंडल के अंतर्गत मैनपुर वनपरिक्षेत्र (Mainpur Forest Range under Gariaband forest) में बाजा घाटी के पास एक नर चीतल के अवैध शिकार करने के आरोप में रामसिंह को वन विभाग की टीम द्वारा 48 घंटे के भीतर पकड़ लिया गया है।

कोरोना के पाबंदियों के बीच देशवासियों ने मनाया नए साल का जश्न, पीएम और राष्ट्रपति सहित सीएम बघेल ने दी शुभकामनाएं

वहीं चीतल के अवैध शिकार में संलिप्त 7 अन्य आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। साथ ही उनके खिलाफ वन्य जीव (संरक्षण) अधिनियम के तहत केस दर्ज करते हुए आगे की कार्रवाई शुरू कर दी गई है।

गरियाबंद वनमंडलाधिकारी के नेतृत्व में हुई यह कार्रवाई

प्रधान मुख्य वन संरक्षक (वन्य प्राणी) P.V. नरसिंग राव के मार्गदर्शन और मुख्य वन संरक्षक रायपुर जे.आर. नायक के निर्देशानुसार गरियाबंद वनमंडलाधिकारी मयंक अग्रवाल के नेतृत्व में गठित टीम द्वारा यह कार्रवाई की गई है।

नए साल में छत्तीसगढ़ ने देश में लहराया परचम : 28 राज्यों और 8 संघशासित प्रदेशों की कड़ी प्रतियोगिता में हुआ प्रदेश का चयन

जानकारी के मुताबिक गरियाबंद वनमंडल के अंतर्गत मैनपुर परिक्षेत्र (Mainpur Forest Range under Gariaband forest) में बीते 27 दिसंबर को एक नर चीतल मृत पाया गया था। इसके साथ ही उसी जगह पर एक तीर-कमान भी मिला था, जिसके आधार पर वन विभाग की टीम द्वारा खोजबीन कर आरोपियों को पकड़ लिया गया है। वहीं आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जारी है। इस कार्रवाई में मैनपुर परिक्षेत्र अधिकारी अनिल साहू और इंदगांव परिक्षेत्र अधिकारी योगे रात्रे सहित विभागी अमले का सराहनीय योगदान रहा।

धमतरी वनमंडल (Dhamtari Forest) में 4 आरा मिलों से 6 लाख रूपए के लट्ठे और चिरान जब्त

वहीं वन अपराधों की रोकथाम के लिए चलाए जा रहे अभियान के तहत छत्तीसगढ़ वन विभाग की टीम द्वारा बीते 30 दिसंबर को रात्रि गश्त के दौरान प्राप्त सूचना के आधार पर सुबह धमतरी वनमंडल (Dhamtari Forest) के अंतर्गत 4 आरा मिलों में दबिश दी गई और वहां से 493 अर्जुन लट्ठा और 6 हजार 717 अर्जुन लकड़ी के चिरान जब्त कर आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जा रही है। वन विभाग की टीम द्वारा जब्त किए गए लकड़ी की कीमत लगभग 6 लाख रूपए आंकी गई है।

साल 2020 में इन एक्टरों ने कहा दुनिया को हमेशा के लिए अलविदा, फैंस के दिलों में हमेशा जिंदा रहेंगे ये सितारे

बता दें कि धमतरी वनमंडलाधिकारी सतोविसा समाजदार (Dhamtari Forest Officer, Satovisa Samajdar) के नेतृत्व में टीम द्वारा रींवागहन, कोसमर्रा और कचना गांव में संचालित 4 अलग-अलग आरा मिलों में आकस्मिक दबिश दी गई। वहीं धमतरी वन परिक्षेत्र के रींवागहन गांव में चेतनराम साहू के आरा मिल में छापामार कार्रवाई के दौरान 38 अर्जुन लट्ठा और एक हजार 278 अर्जुन लकड़ी के चिरान जब्त किए गए।

इनके मिलों में की गई छापेमारी (Raids conducted in their mills)

तहसील कुरूद के अंतर्गत कोसमर्रा गांव में महेश कुमार साहू द्वारा संचालित आरा मिल में 359 अर्जुन लट्ठा और एक हजार 24 अर्जुन के चिरान जब्त किया गया. वहीं वेदप्रकाश साहू के आरा मिल में 20 अर्जुन लट्ठा और 50 अर्जुन के चिरान जब्त किए गए। इसके अलावा तहसील कुरूद के अंतर्गत ही कचना गांव में पूजा शुक्ला द्वारा संचालित आरा मिल में 76 अर्जुन लट्ठा और 4 हजार 365 अर्जुन चिरान की जब्ती की कार्रवाई की गई।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close