पड़ताल

दीपिका पादुकोण मनरेगा में कर रही है काम

जॉब कार्ड पर ऐक्ट्रेस की फोटो (Deepika padukon Photo in Manrega List)लगाकर निकाल लिए लाखों , दीपिका के साथ-साथ कई अन्य एक्ट्रेस के नाम पर भी फर्जीवाड़ा

www.media24media.com

भोपाल: यह बात सुनकर आपको हैरानी जरूर होगी लेकिन मशहूर Actress इन दिनो मनरेगा में काम कर रही हैं। जी हां, जहां भ्रष्ट नेता हो वहां सबकुछ संभव है। सबसे बड़ी बात यह है कि मजूदर बनकर भी दीपिका (Deepika Padukon jobs in Manrega) ने हजारों की कमाई कर रही है। जब मामला खुला तब पता चला कि कई अभिनेत्रियों के नाम पर कार्ड बनवाकर भ्रष्टाचार किया गया है।

मिली जानकारी के अनुसार मध्यप्रदेश के खरगोन जिले की एक ग्राम पंचायत में पंचायत सचिव और रोजगार सहायक ने अभिनेत्रियों की फोटो लगाकर रोजगार गारंटी कार्ड बनाकर भ्रष्टाचार किया है। इस कार्ड पर मजदूरी की राशि भी जारी कर दी गयी है। कई ग्रामीण भी इस बात से बेखबर हैं कि उनके नाम व पते पर राशि जारी हुई है जबकि वे लोग तो काम भी करने नहीं गए।

यह भी पढ़ें : –महासमुंदः इस गांव में तीन सौ एकड़ शासकीय जमीन पर है अतिक्रमण !

मामला झिरनिया जनपद पंचायत की ग्राम पंचायत पीपल खेड़ा का बताया जा रहा है। इस फर्जीवाड़े में रोजगार सहायक और पंचायत सचिव ने लाखों रूपये की निकासी कर डाली है। जिला पंचायत के सीईओ गौरव बैनल के अनुसार 11 जॉब कार्ड की जानकारी मिली है जिसमें सेलिब्रिटीज की तस्वीरें लगी हैं। पिछले कुछ दिनों में राशि का आहरण हुआ है और मस्टर रोल भरे गए हैं। जांच कर पता लगाया जाएगा कि किस तरह जॉब कार्ड जारी किए गए हैं। जांच में जो भी दोषी होगा, उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

यह भी पढ़ें : –Bollywood News : सिंगर कुमार शानू हुए Corona के शिकार

लोगों को मनरेगा में कोई काम ही नहीं मिला

जबकि सच्चाई ये है कि जिस पंचायत (Deepika Padukon jobs in Manrega) में ये फर्जीवाड़ा हुआ है वहां के लोगों का कहना है कि मनरेगा में उन्हें कोई काम ही नहीं मिला है। लोग मूलभूत सुविधाओं के लिए भी जूझ रहे हैं। सरपंच, सचिव, रोजगार सहायक के साथ शासन-प्रशासन में ऊपर तक बैठे लोग भी इस भ्र्ष्टाचार में मिले हैं। मशीनों से काम करवाकर इस तरह फर्जीवाड़ा किया गया है। मामला सामने आने के बाद जिला पंचायत सीईओ गौरव बेनल ने जांच के आदेश दिए हैं, जिसमें दो प्रकार से जांच होगी फर्जी जॉब कार्ड कैसे बनाए गए और दूसरा कितनी राशि का फर्जीवाड़ा किया गया है।

हमसे जुड़ें

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close