Uncategorized

Corona Vaccine Update: कौन सी वैक्सीन कब से मिलने लगेगी

www.media24media.com

Corona Vaccine Update: दुनिया में कोरोना वायरस महामारी के मामलों में एक बार फिर से बढोत्तरी देखने को मिल रही है. अमेरिका जैसे ताकतवर देश में कोरोना की नई लहर से हाहाकार मचा हुआ है. भारत में भी हर दिन कोरोना के करीब पचास हजार मामले सामने आ रहे हैं और सैकड़ों लोगों की मौत हो रही है.

यह भी पढ़ें : –Dhanteras 2020: धनतेरस के दिन क्यों रखते हैं दीया दक्षिण दिशा में, जानें पूजन विधि

सिर्फ भारत या अमेरिका नहीं दुनिया के कई ऐसे देश हैं, जहां कोरोना हर दिन हजारों लोगों की मौत हो रही है. ऐसे में कोरोना के इस दौर में हर कोई बस एक सवाल पूछ रहा है कि कोरोना की कारगर वैक्सीन कब आएगी? जानिए कोरोना की कौन सी वैक्सीन कब से मिलने लगेगी.

यह भी पढ़ें : –अमेरिका में तख्तापलट की तैयारी में ट्रंप ?

सबसे पहले भारत की स्थिति जानिए

भारत वैक्सीन (Corona Vaccine Update) उत्पादन के मामले में आगे है. सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के अलावा ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका और जायडस कैडिला जैसी फार्मा कंपनियां भी हैं, जो वैक्सीन बनाने के लिए तेजी से काम कर रही है, ऐसे में अगर इनमें से कोई भी कंपनी कोरोना की दवा बना लेती है तो सीधे तौर पर भारत को इसका फायदा होगा.

भारत बायोटेक की वैक्सीन

हैदराबाद स्थित भारत बायोटेक अभी दो कोविड-19 (Corona Vaccine) टीकों पर काम कर रहा है, जिनमें से कोवाक्सिन का परीक्षण दूसरे चरण में है.अध्ययनों से पता चला है कि यह टीका वॉलंटियर्स में मजबूत प्रतिरक्षा देने में सक्षम रहा है. आईसीएमआर के साथ मिलकर भारत बायोटेक कोरोना की वैक्सीन को तैयार कर रहा है. यह वैक्सीन अपने तीसरे चरण के ट्रायल के लिए तैयार है.

भारत बायोटेक का वॉशिंगटन यूनिवर्सिटी के साथ करार

भारत बायोटेक ने वाशिंगटन यूनिवर्सिटी के स्कूल ऑफ मेडिसिन के साथ कोविड-19 की वैक्सीन-नोवल चिम्प एडीनोवायरस (चिंपांजी एडीनोवायरस) के लिए एक लाइसेंस समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं. भारत बायोटेक नाक के जरिए जाने वाले एडेनोवायरस वैक्सीन की एक अरब खुराक तक का उत्पादन करने के लिए काम कर रहे हैं. देश में फिलहाल यह टीका पहले चरण के परीक्षण में है. इसके अलावा देश में जायडस कैडिला हेल्थ केयर लिमिटेड और सीरम इंस्टिट्यूट पुणे की वैक्सीन का भी ट्रायल चल रहा है. ये वैक्सीन अगले साल मध्य तक आ सकती हैं.

दिसंबर तक भारत के पास हो सकती है वैक्सीन

सीरम इंस्टिट्यूट (SII) के सीईओ आदर पूनावाला ने कहा है कि इस साल दिसंबर महीने तक कोरोना वैक्सीन तैयार किए जाने की संभावना है. हालांकि वैक्सीन का तैयार होना काफी हद तक ब्रिटेन की टेस्टिंग और डीसीजीआई के अप्रूवल पर डिपेंड करेगा. अगर ब्रिटेन डेटा साझा करता है तो इमर्जेंसी ट्रायल के लिए स्वास्थ्य मंत्रालय में आवेदन किया जाएगा. मंत्रालय से मंजूरी मिलते ही टेस्ट भारत में भी किये जा सकते हैं और यदि ये सभी सफल रहा तो दिसंबर के मध्य तक भारत के पास कोरोना वैक्सीन हो सकती है.

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close