Chhattisgarh Newsछत्तीसगढ़छत्तीसगढ़ न्यूजदंतेवाड़ा
Trending

कोरोना और अन्य कारणों से 10 से ज्यादा नक्सलियों की मौत, SP ने किया दावा

www.media24media.com

कोरोना की दूसरी लहर का कहर अब नक्सलियों तक भी पहुंच चुका है, जिससे 10 से ज्यादा नक्सलियों की मौत की खबर भी सामने आ रही है। वहीं दंतेवाड़ा SP अभिषेक पल्लव ने दावा किया है कि 2 से 3 दिन के अंदर 10 से ज्यादा नक्सलियों की फूड प्वॉयजनिंग और कोरोना संक्रमण से मौत हुई है।

डबल मर्डर केस: 2 दोस्तों का एक-एक कर गला रेतकर हत्या, इलाके में दहशत

SP के मुताबिक लगभग 100 से ज्यादा नक्सली पीड़ित हैं। पुलिस अधीक्षक ने कहा कि करीब 15 दिन पहले बीजापुर-सुकमा बॉर्डर पर गंगालूर क्षेत्र में नक्सलियों की बड़ी बैठक की जानकारी मिली थी। इस मीटिंग में 400-500 नक्सली शामिल हुए थे। इसके बाद ही नक्सलियों में फूड प्वॉयजनिंग और कोरोना संक्रमण की बात सामने आई है। उन्होंने कहा कि सूत्रों से पता चला है कि गांववालों ने 8 से 10 नक्सलियों का शव जलते देखा है।

SP पल्लव ने दी जानकारी

SP पल्लव ने कहा कि नक्सली लगातार गांव-गांव जा रहे हैं। ग्रामीणों से मीटिंग कर रहे हैं। इससे गांववालों में संक्रमण फैलने का खतरा है। ये पहुंचविहीन इलाके हैं। नक्सलियों ने सड़क काट दी है। फोन लाइन्स काट दी हैं। ऐसे में गांववालों की मदद करना मुश्किल होगा। एसपी ने नक्सलियों से अपील की है कि वे सरेंडर करें। लोन वर्राटू अभियान का फायदा उठाएं। पुलिस प्रशासन की मदद से उन्हें इलाज मुहैया कराया जाएगा। इससे नक्सलियों की जान भी बचेगी। गांववाले भी महामारी के खतरे से निकल पाएंगे।

कई नक्सली लीडर्स के संक्रमित होने का दावा

पुलिस अधीक्षक ने कहा कि नक्सलियों ने फिलहाल प्रेस विज्ञप्ति जारी नहीं की है, लेकिन जिस तरह से उन्होंने चुप्पी साध रखी है, उससे साफ होता है कि बड़ी संख्या में नक्सली पीड़ित हैं और स्थिति गंभीर है। SP अभिषेक पल्लव के बाद बस्तर IG सुंदरराज पी ने भी नक्सलियों के कोरोना संक्रमित होने की जानकारी मिलने की बात कही है। IG ने कहा है कि अगर नक्सली मुख्यधारा से जुड़ने के लिए समर्पण करते हैं, तो बस्तर पुलिस उनका इलाज करवाएगी। IG ने दावा किया है कि 12 से ज्यादा बड़े नक्सली लीडर्स को भी कोरोना होने की जानकारी उन्हें सूत्रों से मिली है।

गांव में फैल रहा कोरोना

बता दें कि इस बार शहरों की तुलना में ग्रामीणों इलाकों में कोरोना का संक्रमण ज्यादा फैल रहा है। इसका मुख्य कारण ग्रामीणों में जागरूकता की कमी और कोरोना वैक्सीन नहीं लगवाना है। जिससे शहरों की तुलना में कोरोना गांवों में तेजी से फैल रहा है।

Tags

Related Articles

Back to top button
Close
Close