प्रेरक प्रसंग

झटपट बनावाएं किसान क्रेडिट कार्ड, न बने तो यहां करें शिकायत

www.media24media.com

कोरोना संकट में सरकार ने आत्मनिर्भर भारत योजना शुरू की है। इसके तहत 2.5 करोड़ किसानों को किसान क्रेडिट कार्ड (Kisan credit card) के तहत लोन देने का ऐलान किया था। कर्ज लेकर खेती करने वाले किसानों के लिए KCC स्कीम को प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना से लिंक कर दिया गया है।

यह भी पढ़ें : –रजिस्ट्री कार्यालयों में 13 नवंबर तक बढ़ाई गई समय सीमा

पीएम किसान स्कीम की वेबसाइट पर KCC फार्म दिया गया है। इसमें साफ निर्देश है कि बैंक सिर्फ 3 दस्तावेज लें और उसके आधार पर ही लोन दें। KCC बनवाने के लिए Aadhaar card, Pan और फोटो ली जाएगी। साथ ही एक शपथ पत्र देना होगा जिसमें यह बताना होगा कि किसी दूसरे बैंक से कर्ज तो नहीं लिया। मौजूदा समय में लगभग 6।67 करोड़ सक्रिय केसीसी खाते हैं।

यह भी पढ़ें : –कहीं आपका PAN Card नकली तो नहीं ? आसान तरीके से लगाएं पता

कहां से बनेगा

को-ऑपरेटिव बैंकक्षेत्रीय ग्रामीण बैंकनैशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडियास्टेट बैंक ऑफ इंडियाबैंक ऑफ इंडियाइंडस्ट्रियल डेवलपमेंट बैंक ऑफ इंडिया

डाउनलोड करें फॉर्म

किसान क्रेडिट कार्ड (Kisan credit card) का फॉर्म डाउनलोड करने के लिए आधिकारिक वेबसाइट https://pmkisan.gov.in/ पर जाएं। वेबसाइट में फॉर्मर टैब की दाईं तरफ डाउनलोड किसान क्रेडिट फार्म का विकल्प दिया है। यहां से फॉर्म को प्रिंट करें और भरकर नजदीकी बैंक में जाकर जमा कर सकते हैं। सरकार ने कार्ड की वैलिडिटी पांच साल रखी है। इसकी शिकायत के लिए भी पोर्टल बना है। Umang ऐप पर भी शिकायत दर्ज करा सकते हैं।

केसीसी पर ब्याज

Kisan credit card से किसानों को 3 लाख रुपये तक का लोन मुहैया कराया जाता है। वैसे तो लोन पर ब्याज दर 9 फीसदी है, लेकिन केसीसी पर सरकार दो फीसदी की सब्सिडी देती है। इस तरह केसीसी पर किसान को 7 फीसदी की दर से लोन मिलता है। इसमें भी किसान अगर समय से पहले लोन चुका देते हैं तो उन्हें ब्याज पर 3 फीसदी तक की और छूट मिलती है। यानि कुल ब्याज 4 फीसदी रह जाता है।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close