Chhattisgarh Newsछत्तीसगढ़छत्तीसगढ़ न्यूजधमतरी
Trending

कलेक्टर के सख्त निर्देश, शासकीय कर्मचारी बारी आने पर लगवाएं टीका, नहीं तो होगी कड़ी कार्रवाई

धमतरी कलेक्टर जय प्रकाश मौर्य ने मंगलवार को समय सीमा की बैठक में साफ तौर पर निर्देश दिए हैं कि कोई भी शासकीय सेवक अगर बारी आने पर कोविड 19 का टीकाकरण नहीं कराता है, तो कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

www.media24media.com

धमतरी कलेक्टर जय प्रकाश मौर्य ने मंगलवार को समय सीमा की बैठक में साफ तौर पर निर्देश दिए हैं कि कोई भी शासकीय सेवक अगर बारी आने पर कोविड 19 का टीकाकरण नहीं कराता है, तो कड़ी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि अगर किसी को चिकित्सीय कारणों से छूट चाहिए, तो PG स्तर के डॉक्टर से प्रमाण पत्र लेकर प्रस्तुत करें, नहीं तो कड़ी कार्रवाई के लिए तैयार रहें।

पढ़ें:- आनंद को मिला राईजिंग स्टार ऑफ द इयर-2021 अवार्ड

इसके साथ ही कलेक्टर ने सभी को संकल्प लेने कहा कि अगले दो माह में जिले के 60 साल से अधिक उम्र के बुजुर्ग और 45 से 59 वर्ष के को-मोर्बिड लोगों का कोविड 19 का टीकाकरण पूरा कर लिया जाएगा। इसके लिए लोगों को अधिक से अधिक पंजीयन कराने के लिए जागरूक करने पर जोर दिया।

टीका लगाने का लक्ष्य

बता दें कि जिले में अगले दो माह में एक लाख को-मोर्बिड और 60 साल से अधिक आयु के लोगों को कोविड 19 का टीका लगाने का लक्ष्य मिला है। इसके साथ ही लोगों को कोविड 19 के टीकाकरण के संबंध में अधिक से अधिक जागरूक करने पर कलेक्टर ने बैठक में बल दिया है, जिससे कि आने वाले समय में आम लोगों के लिए जब कोविड 19 का टीका आएगा, तो जिलेवासी स्वयं आगे बढ़कर टीकाकरण कराने आएं। कलेक्टर ने निर्देश दिए कि जिला स्तरीय जनचौपाल शिविर में अधिकारी गंभीरता से लोगों के आवेदनों को यथासंभव निराकृत करने की कोशिश करें।

पढ़ें:- किसानों के लिए एक और महत्वपूर्ण फैसला, विद्युत कनेक्शन हेतु लंबित कृषि पम्पों को मिलेगा कनेक्शन: CM ने विधान सभा में की घोषणा

गौरतलब है कि पहला जिला स्तरीय जनचौपाल शिविर नगरी के वनांचल घठुला में आगामी 6 मार्च को रखा गया है। बैठक में कलेक्टर ने नए शिक्षा सत्र के लिए जिला शिक्षा अधिकारी और आदिवासी विकास विभाग को शिक्षा के स्तर को बेहतर करने के लिए पहले से रूपरेखा तैयार करने पर जोर दिया है। बैठक में कुपोषण मुक्ति की दिशा में ठोस कदम उठाने के लिए समन्वित और लक्षित प्रयास करने के कलेक्टर ने महिला एवं बाल विकास विभाग को निर्देशित किया।

कलेक्टर ने अधिकारियों को दिए ये निर्देश

कलेक्टर ने साफ तौर पर कहा है कि जल जीवन मिशन में जिले का प्रदर्शन हर हाल में बेहतरीन होना चाहिए। बैठक में गोधन न्याय योजना के तहत गोबर खरीदी, वर्मी खाद तैयार करने की प्रगति की समीक्षा भी की गई। कलेक्टर ने इस अवसर पर मुख्यमंत्री और कलेक्टर जनचौपाल के लंबित आवेदनों का गुणवत्तापूर्वक और समय सीमा में निराकरण करने के निर्देश दिए। समय सीमा की बैठक में मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत मयंक चतुर्वेदी, अपर कलेक्टर दिलीप अग्रवाल सहित जिला स्तरीय अन्य अधिकारी और स्वान की वीडियो कॉन्फ्रेंस से ब्लॉक स्तरीय अधिकारी जुड़े रहे।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close