पत्रकारिता

मरवाही विधानसभा उपचुनाव: क्या ‘जोगी’ का अभेद्य किला भेद पाएगी कांग्रेस-भाजपा?

www.media24media.com

अशोक कुमार साहू
रायपुर :
मरवाही विधानसभा उपचुनाव (Marwahi by election) के लिए रणभेरी बज चुकी है। चुनाव के लिए आज अधिसूचना जारी होने के साथ ही जोर आजमाइश शुरू हो गई है। यहां जोगी परिवार का खासा वर्चस्व है। राजनीतिक पंडित ‘मरवाही’ को जोगी का अभेद्य गढ़ मानते हैं। अजीत जोगी के देहावसान से यह सीट रिक्त हुई है।

अनुसूचित जनजाति वर्ग के लिए आरक्षित इस परंपरागत सीट पर कब्जा कायम रखने अमित जोगी(Amit jogi) एड़ी चोटी का जोर लगा रहे हैं। वहीं सत्तारूढ़ दल कांग्रेस इसे प्रतिष्ठा का प्रश्न बनाकर हर हाल में मरवाही जीतने आतुर है। भाजपा भी कोई कोर कसर बाकी नहीं छोड़ना चाहती है। ऐसे में राजनीतिक गलियारे में एक ही चर्चा है कि क्या जोगी का अभेद्य किला माने जाने वाले मरवाही को कांग्रेस-भाजपा भेद पाएगी?

यह भी पढ़ें : –ऋचा जोगी जाति का मामला अब हाइकोर्ट में, संत कुमार नेताम ने दायर किया केवियट

शह-मात की शतरंजी बिसात

राजनीतिक शतरंज मे मोहरों की मदद लेना शुरु हो गया है। ‘जाति’ का जिन्न इस समय प्रभाव दिखा रहा है। चौतरफा घेराबंदी हो रही है। किसके सिर पर जीत का सेहरा बंधेगा, इसके लिए 10 नवम्बर तक इंतजार करना पड़ेगा। बहरहाल, चुनावी बिगुल बजते ही सबकी नजर मरवाही पर टिक गई है। पक्ष-विपक्ष के टारगेट में यहां जोगी परिवार है। वहीं अमित जोगी सोशल मीडिया पर भावनात्मक ढंग से अपने बेटे को पिता (अजीत जोगी) का पुनर्जन्म बता रहे हैं। बहरहाल, यह भविष्य के गर्भ में है कि मरवाही का एमएलए कौन होगा?

यह भी पढ़ें : –Cocaine Case : राजधानी के बार संचालक पर पुलिस की नजर

निर्वाचन कार्यक्रम की घोषणा

छत्तीसगढ़ के नए बने गौरेला-पेंड्रा-मरवाही जिले की मरवाही विधानसभा सीट पर उपचुनाव की घोषणा हो गई है। आज अधिसूचना भी जारी हो गया। इस सीट पर उप चुनाव के लिए जिला निर्वाचन अधिकारी ने नोटिफिकेशन जारी कर दिया है। इसके साथ ही नामांकन की प्रक्रिया शुरू हो गई है। नामांकन की आखिरी तारीख 16 अक्टूबर है। नामांकन पत्रों की जांच 17 अक्टूबर को होगी। 19 अक्टूबर तक उम्मीदवार नाम वापस ले सकेंगे। मतदान 3 नवंबर को होगी। वोटों की गिनती 10 नवंबर को होगी। इसके साथ ही इसी दिन नतीजे भी घोषित किए जाएंगे।

अमित जोगी ने अपने Facebook पर साझा किया है यह तस्वीर

“मैं जन्म ले लिया हूं, आपका आशीर्वाद चाहिए” यह लिखा हुआ तस्वीर को अमित जोगी ने अपने फेसबुक पेज पर साझा किया है। उल्लेखनीय है कि मरवाही सीट से विधायक और प्रदेश के प्रथम मुख्यमंत्री अजीत जोगी का गत दिनों निधन हो गया। जिसके बाद यह सीट खाली हुई है। इस सीट से अब उनके बेटे व जनता कांग्रेस (जोगी) पार्टी के प्रमुख अमित जोगी चुनाव लड़ने की तैयारी में हैं।

यह भी पढ़ें : –ACB Raid: किसान से रिश्वत लेते हुए बैंक मैनेजर और चौकीदार गिरफ्तार

उनके जाति अथवा नागरिकता का मामला आड़े आया तो वे अपनी पत्नी ऋचा जोगी (Richa Jogi) को मैदान में उतार सकते हैं। चुनावी तैयारी के लिए ही उन्होंने हाल ही में अपने फेसबुक अकांउट पर अपने बेटे और अजीत जोगी के पोते की यह तस्वीर लगाई है, ऐसा माना जा रहा है।

जोगी परिवार का रहा है कब्जा

दरअसल, जनता कांग्रेस के कई नेता भी इस बच्चे को अजीत जोगी का पुनर्जन्म मान रहे हैं। इस सीट पर वर्षों से जोगी परिवार का ही कब्जा है। इसके चलते इसे जोगी का अभेद्य किला भी कहा जाता है। इस किले को भेदने की कोशिश कांग्रेस और भाजपा दोनों ही दलें कर रही हैं।

हमसे जुड़ें

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close