प्रेरक प्रसंग

Navratri 2020 : राशिनुसार किस शुभ ग्रंथ से घर में आएगी समृद्धि

www.media24media.com

Sharadiya Navratri 2020 अधिकमास समाप्त होने के बाद नवरात्र 17 अक्टूबर को शुरू हो जाएगा विजय दशमी 25 अक्टूबर को मनाई जाएगी इस बार नौ दिनों में ही दस दिनों के पर्व पूरा हो जाएगा इसका कारण तिथियों का उतार चढ़ाव है। 24 अक्तूबर को सुबह 6 बजकर 58 मिनट तक अष्टमी है और उसके बाद नवमी लग जाएगी दो तिथियां एक ही दिन पड़ रही है।

इसलिए अष्टमी और नवमी की पूजा एक ही दिन होगी जबकि नवमी के दिन सुबह 7 बजकर 41 मिनट के बाद दशमी तिथि लग जाएगी इस कारण दशहरा पर्व और अपराजिता पूजन एक ही दिन आयोजित होंगे कुल मिलाकर 17 से 25 अक्टूबर के बीच नौ दिनों में दस पर्व संपन्न होंगे।

यह भी पढ़ें : –Horoscope 16 October 2020 : आज शुक्रवार को कैसा रहेगा आपका दिन, जानें अपना भविष्यफल

संपूर्ण समाधान

17 अक्टूबर 2020 को आरंभ नवरात्रि (Sharadiya Navratri 2020) के 9 दिनों में समृद्धि प्राप्ति के लिए राशिनुसार करें इन पवित्र ग्रंथों का पाठ .

मेष – मेष राशि वाले प्रात : काल रुद्राष्टक के 11 पाठ करें।
वृषभ – वृषभ राशि वाले प्रात : काल देवी – कवच का पाठ करें।
मिथुन – मिथुन राशि वाले प्रात : काल गणपति -अथर्वशीर्ष का पाठ करें।
कर्क – कर्क राशि वाले गौरी – जी की आराधना करें।
सिंह – सिंह राशि वाले आदित्य- ह्रदय – स्तोत्र के 11 पाठ करें।
कन्या – कन्या राशि वाले गायत्री – मंत्र जाप करें।
तुला – तुला राशि वाले श्री- सूक्तम का पाठ करें।
वृश्चिक – वृश्चिक राशि वाले मंगला – स्तोत्र का पाठ करें।
धनु – धनु राशि वाले साई – चरित्र का पाठ करें।
मकर – मकर राशि वाले हनुमान चालीसा के 11 पाठ नौ दिन करें।
कुंभ- कुंभ राशि वाले सुंदरकांड का पाठ करें।
मीन – मीन राशि वाले राम – रक्षास्तोत्र का पाठ करें।

यह भी पढ़ें : –क्या आप जानते हैं, किन मानव अंगों को दान किया जा सकता है?

मां दुर्गा के वाहन का पड़ेगा प्रभाव

नवरात्र 17 अक्टूबर से शुरू हो रहा हैं शारदीय नवरात्रि माता दुर्गा की आराधना के लिए सबसे श्रेष्ठ मानी जाती हैं इस बार शारदीय नवरात्र का आरंभ शनिवार के दिन हो रहा है ऐसे में देवीभाग्वत पुराण के कहे श्लोक के अनुसार माता का वाहन अश्व होगा अश्व पर माता का आगमन छत्र भंग, पड़ोसी देशों से युद्ध, आंधी तूफान लाने वाला होता है .

यह भी पढ़ें : –http://Chhattisgarh Corona : प्रदेश में आज 2819 नये केस सामने आये

ऐसे में आने वाले साल में कुछ राज्यों में सत्ता में उथल-पुथल हो सकता है सरकार को किसी बात से जन विरोध का भी सामना करना पड़ सकता है कृषि के मामले में आने वाल साल सामान्य रहेगा देश के कई भागों में कम वर्षा होने से कृषि का हानि और किसानों को परेशानी होगी।

हमसे जुड़ें

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close