Chhattisgarh NewsNATIONALछत्तीसगढ़छत्तीसगढ़ न्यूजबस्तरबीजापुर
Trending

नक्सलियों ने जारी किया लापता जवान की फोटो, कोबरा बटालियन के जवान है राकेश्वर

www.media24media.com

छत्तीसगढ़ के बीजापुर में 3 अप्रैल को सुरक्षाबलों और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ हुई थी, जिसमें 22 जवान शहीद हो गए थे। वहीं कोबरा बटालियन के जवान राकेश्वर सिंह मनहास लापता है। जिन्हें नक्सलियों ने अपने कब्जे में होने की बात कही है।

लापता जवान का फोटो जारी

वहीं नक्सलियों ने कोबरा बटालियन के लापता जवान राकेश्वर सिंह मनहास का एक फोटो भी जारी किया है। साथ ही दावा किया है कि जवान उनके पास सुरक्षित है। फोटो में जवान राकेश्वर सिंह एक पत्ते से बने शेड के नीचे बैठे दिखाई दे रहे हैं, जिसमें वह बात करने के एक्शन में दिखाई दे रहे हैं।

पढ़ें:- बीजापुर नक्सली मुठभेड़ – नक्सलियों ने जारी किया प्रेस नोट, नक्सली मारे जाने की पुष्टि और..

नक्सली लगातार दावा कर रहे हैं कि कोबरा बटालियन के जवान राकेश्वर सिंह उनके कब्जे में हैं। एक दिन पहले भी उन्होंने प्रेस नोट जारी कर कहा था कि सरकार बातचीत के लिए मध्यस्थों के नाम की घोषणा करे, इसके बाद वे जवान को सौंप देंगे।

जवान को नक्सलियों से छुड़ाने की कोशिश

नक्सली बार-बार यह बताने की कोशिश कर रहे हैं कि जवान उनके पास है और सुरक्षित है। कोबरा बटालियन के अपह्रत जवान राकेश्वर सिंह को छुड़ाने सामाजिक कार्यकर्ता सोनी सोरी और पत्रकार रवाना हो गए हैं। दल नक्सलियों की मांद में घुसकर जवान को छोड़े जाने की अपील करेगा। दल में जेल बंदी रिहाई समिति के सदस्य और स्थानीय पत्रकार शामिल हैं।

नक्सली बार-बार कर रहे दावा

जवान राकेश्वर सिंह को जगरगुंडा इलाके में होने की खबरें आ रही हैं। यह भी कहा जा रहा है कि जिस जगह पर जवान को रखा गया है, वह जगह गांव और जंगल और पहाड़ियों के आसपास है। इससे पहले नक्सलियों ने वॉट्सएप कॉल कर के भी मीडिया को बताया था कि जवान उनके पास है।

DG कुलदीप सिंह ने भी किया था ट्वीट

लापता जवान के नक्सलियों के कब्जे में होने के मामले में CRPF के DG कुलदीप सिंह ने ट्वीट किया था। उन्होंने कहा था ‘ हमारा एक जवान लापता है, ऐसी अफवाह है कि वह नक्सलियों के कब्जे में है, अभी हम इस खबर की पुष्टि कर रहे हैं और जवान के लिए आपरेशन भी प्लान कर रहे हैं ।’

स्थानीय पत्रकार ने भी किया दावा

वहीं बस्तर के एक स्थानीय पत्रकार गणेश मिश्रा ने दावा किया है कि उन्हें नक्सलियों ने दो बार फोन करने लापता जवान के कब्जे में होने की बात कही है। गणेश मिश्रा ने कहा कि उन्हें सोमवार और मंगलवार को नक्सलियों ने फोन किया। पत्रकार का दावा है कि नक्सलियों ने उसे जवान के घायल होने की जानकारी दी है। पत्रकार के मुताबिक नक्सलियों ने कहा है कि वे जवान का इलाज कर रहे हैं, दो दिन में उसे छोड़ देंगे।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close