रायपुर

राम वन गमन पथ मार्ग के कार्यों की गुणवत्तापूर्ण प्रगति सुनिश्चित हो: मुख्य सचिव

www.media24media.com

रायपुर :  मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के ड्रीम प्रोजेक्ट “राम वन गमन पथ” (Ram van Gaman Path) मार्ग के निर्माण कार्यों का आज मुख्य सचिव आर.पी. मण्डल ने भ्रमण कर जायजा लिया। सीएस मंडल के साथ पीसीसीएफ राकेश चतुर्वेदी, सचिव पर्यटन पी. अन्बलगन तथा पर्यटन मण्डल की प्रबंध संचालक रानू साहू भी उनके साथ थीं।

यह भी पढ़ें : –CM ने दीपावली पर निवास पर धान की झालर बांधने की रस्म की पूरी

मुख्य सचिव ने अधिकारियों को माता कौशल्या मंदिर चंदखुरी के कार्यों की प्रगति तथा गुणवत्ता एवं ऐतिहासिकता को संरक्षित करने के निर्देश दिए। गौरतलब है कि प्राचीन मान्यता के अनुसार चंदखुरी माता कौशल्या का मायका है, अर्थात् भगवान श्री राम का ननिहाल है।

यह भी पढ़ें : –गोपनीय सामग्री का वितरण 23 एवं 24 नवम्बर को

यहां माता कौशल्या का मंदिर राम वन गमन पथ (Ram van Gaman Path) का महत्वपूर्ण भाग है, जो राजधानी से 20 किलोमीटर दूरी पर है। मंदिर के 26 एकड़ परिसर में विकास किया जा रहा है। इसकी कुल लागत 17 करोड़ रूपए है। इसमें प्रथम चरण में 7 करोड़ 89 लाख की लागत से कार्य किया जा रहा है।

गौरतलब है कि छत्तीसगढ़ में पहले चरण के आठ स्थलों को विकसित करने के बाद राम वनगमन मार्ग के 16 जिलों के बचे हुए 43 स्थलों का प्लान तैयार होगा। छत्तीसगढ़ का भगवान राम से काफी करीब का नाता है। पुराणों के मुताबिक़ माता कौशल्या खुद छत्तीसगढ़ की राजकुमारी थी, वहीं भगवान राम ने भी अपने वनवास के दौरान काफी वक्त छत्तीसगढ़ में गुजारा था।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close