Chhattisgarh Newsछत्तीसगढ़ न्यूजरायपुरविधायिका
Trending

शीतकालीन सत्र का दूसरा दिन, मोतीलाल वोरा को श्रद्धांजलि देने के बाद आज की कार्यवाही स्थगित

छत्तीसगढ़ में विधानसभा के शीतकालीन सत्र का आज दूसरा दिन (second day of winter session of chhattisgarh assembly 2020) है। सत्र की शुरुआत में आज सबसे पहले अविभाजित मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री मोतीलाल वोरा को श्रद्धांजलि (Tribute to former Chief Minister Motilal Vora) दी जाएगी।

www.media24media.com

छत्तीसगढ़ में विधानसभा के शीतकालीन सत्र का आज दूसरा दिन (second day of winter session of chhattisgarh assembly 2020) है। सत्र की शुरुआत में अविभाजित मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री मोतीलाल वोरा को श्रद्धांजलि (Tribute to former Chief Minister Motilal Vora) दी जाएगी। वहीं आज होने वाली विधानसभा की कार्यवाही को आज के लिए स्थगित कर दी गई है। विधानसभा में आज मोतीलाल वोरा को श्रद्धांजलि देने के बाद लगभग सभी मंत्री विधायक उनके अंतिम यात्रा में शामिल होंगे।

जानकारी के मुताबिक मोतीलाल वोरा को श्रद्धांजलि देने के बाद विधानसभा सचिवालय से जारी कार्यसूची के हिसाब से आज प्रश्न उत्तर काल होना था। इस दौरान मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (Chief Minister Bhupesh Baghel) सदन के सामने विद्युत अधिनियम और अन्य विषय को रखते, लेकिन आज की कार्यवाही को स्थागित कर दी गई है।

मोतीलाल वोरा के निधन पर छत्तीसगढ़ में तीन दिन का राजकीय शोक घोषित, आज होगा राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार

बता दें कि शीतकालीन सत्र (winter session) के पहले दिन किसानों की मौत और धान खरीदी का मुद्दा उठा था। सत्र के पहले दिन प्रश्नकाल के बाद बीजेपी सदस्यों ने राज्य में किसानों की आत्महत्या का मुद्दा उठाया था। विपक्ष ने सरकार पर आरोप लगाया था कि कांग्रेस सरकार के कार्यकाल में किसान सबसे ज्यादा पीड़ित हुए हैं।

सदन में पहले दिन जमकर हुआ था हंगामा

राज्य सरकार ने 2500 रुपये प्रति क्विंटल की दर से धान खरीदने की घोषणा की थी, लेकिन 2019-20 में सहकारी समितियों में धान बेचने के बाद किसानों को पूरा भुगतान नहीं मिला है। वहीं विपक्ष ने मृत किसानों के परिजनों को मुआवजा देने की मांग की और सदन के गर्भगृह में नारेबाजी की। सभापति ने गर्भगृह पहुंचे भाजपा और जेसीसीजे सदस्यों के निलंबित होने की जानकारी दी और सदन की कार्यवाही दिन भर के लिए स्थगित कर दी।

छत्तीसगढ़ में 21 दिसंबर तक 31.16 लाख मीट्रिक टन धान की खरीदी, अब तक इतने लाख किसानों ने बेचा धान

गौरतलब है कि छत्तीसगढ़ में विधानसभा का शीतकालीन सत्र (chhattisgarh assembly winter session) 21 दिसंबर से शुरू हो गया है। ये सत्र 21 दिसंबर से 30 दिसंबर तक चलेगा। विधानसभा के शीतकालीन सत्र (chhattisgarh assembly winter session) के दौरान 7 बैठक होंगी।

दिवंगत नेताओं को दी गई श्रद्धांजलि

छत्तीसगढ़ विधानसभा सत्र (chhattisgarh assembly winter session) के पहले दिन दिवंगत नेताओं को श्रद्धांजलि दी गई। इनमें छत्तीसगढ़ विधानसभा के पूर्व सदस्य हीरा सिंह मरकाम, लाल महेंद्र सिंह टेकाम और छत्तीसगढ़ विधानसभा के पूर्व सदस्य घनाराम साहू का नाम शामिल है। इस सत्र के लिए विधायकों ने कुल 961 सवाल की सूचना विधानसभा सचिवालय को दी है। सत्र के दौरान सरकार पत्रकार सुरक्षा कानून पेश कर सकती है। इसका प्रारूप तैयार हो चुका है। साथ ही सरकार कुछ संशोधन विधेयक भी प्रस्तुत कर सकती है।

विधानसभा उपाध्यक्ष कर रहे कार्यवाही का संचालन

छत्तीसगढ़ में विधानसभा अध्यक्ष की गैर मौजूदगी में पहली बार विधानसभा का सत्र की शुरुआत हुई है। विधानसभा अध्यक्ष चरणदास महंत कोरोना पॉजिटिव पाए गए है, जिसके कारण उन्हें 14 दिनों के लिए होम आइसोलेशन में रखा गया है। इसीलिए विधानसभा उपाध्यक्ष कार्यवाही को संचालित कर रहे हैं।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close