Chhattisgarh Newsअपराध जगतरायपुर

प्रदेश के इन 3 बड़े चेहरों के नाम पर ऑनलाइन ठगी की कोशिश

ठगों ने नगरीय प्रशासन एवं विकास मंत्री डॉ. शिव कुमार डहरिया, संसदीय सचिव विकास उपाध्याय और स्टेट वेयरहाउस कॉर्पोरेशन (State Warehouse Corporation) के अध्यक्ष अरुण वोरा के नाम ऑनलाइन कारोबार से जुड़े लोगों को निशाना बनाने की कोशिश की। गनीमत रहीं कि कोई इस झांसे में नहीं आया।

www.media24media.com

रायपुर : ठगों के हौसले इतने मजबूत हो चुके हैं कि अब मंत्रियों और नेताओं के नाम पर (Online fraud using Famous names) भी लोगों को ठगना शुरू कर दिया है। हाल ही में छत्तीसगढ़ में मंत्री और विधायकों के नाम पर ठगी की कोशिश (Online fraud in Chhattisgarh) का सनसनीखेज मामला सामने आया है। ठगों ने नगरीय प्रशासन एवं विकास मंत्री डॉ. शिव कुमार डहरिया, संसदीय सचिव विकास उपाध्याय और स्टेट वेयरहाउस कॉर्पोरेशन (State Warehouse Corporation) के अध्यक्ष अरुण वोरा के नाम ऑनलाइन कारोबार से जुड़े लोगों को निशाना बनाने की कोशिश की। गनीमत रहीं कि कोई इस झांसे में नहीं आया।

सबसे पहले ठगी की कोशिश विधायक विकास उपाध्याय के नाम पर की गई है। घटना की शिकायत विधायक उपाध्याय के निर्देश पर सरस्वती थाना में की गई है। दरअसल दीनदयाल उपाध्याय नगर में ऑनलाइन कैश ट्रांसफर एजेंसी चलाने वाले सचिन खत्री को अज्ञात व्यक्ति ने विधायक विकास उपाध्याय के निज सचिव के नाम पर कॉल किया। उस व्यक्ति ने ट्यूशन फीस के नाम पर मदद करने के लिए सचिन खत्री को ऑनलाइन कैश ट्रांसफर करने कहा।

अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ शिकायत दर्ज

ठग की साजिश को सचिन खत्री 9(Online fraud in Chhattisgarh) ने भांप लिया। जागरुकता से अंतत: साजिश नाकाम रही। इससे एक और आम नागरिक ऑनलाइन ठगी का शिकार होने से बच गया। इस घटना को संज्ञान में लेते हुए विधायक विकास उपाध्याय ने अपने प्रतिनिधियों को संबंधित थाने में शिकायत दर्ज कराने के निर्देश दिए। इस पर विधायक प्रतिनिधि शिव श्याम शुक्ला, संदीप तिवारी और वेद प्रकाश कुशवाहा ने सरस्वती नगर थाने में विधायक के नाम का दुरुपयोग करने वाले अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है।

कांग्रेस विधायक अरुण वोरा के नाम पर भी ठगी

वहीं ठगी की दूसरी वारदात दुर्ग से कांग्रेस विधायक अरुण वोरा के नाम से की गई। दुर्ग के प्रज्ञा च्वॉइस एवं लोक सेवा केंद्र के संचालक सुशील राजपूत से ठगी का प्रयास किया गया। यहां अनजान शख्स ने कॉल कर विधायक के नाम पर मुंबई में पैसे ट्रांसफर करने की बात कही। सेंटर संचालक ने दुर्ग कोतवाली में की इसकी लिखित शिकायत दर्ज कराई है। वहीं इस घटना के बाद विधायक ने लोगों से उनके नाम से आने वाले अनजान कॉल से सतर्क रहने की अपील भी की।

नोट्स देने के बहाने नाबालिग को स्कूल बुलाकर शिक्षक ने किया दुष्कर्म

इसके साथ ही ठगी ती तीसरी कोशिश मंत्री शिवकुमार डहरिया के नाम से की गई। बैंक मित्र से मंत्री के नाम से पैसे ट्रांसफर करवाने का प्रयास किया गया। आरंग थाना में अज्ञात आरोपी के खिलाफ केस दर्ज किया गया है।

कोवैक्सीन का इस्तेमाल करने से स्वास्थ्य मंत्री ने किया इनकार

हालांकि अगर तीनों केसों को मिलाकर देखें तो ऐसा कहा जा सकता है तीनों मंत्रियों के नाम से ठगने वाला ग्रुप एक ही है। जो मंत्रियों का पीए बनकर लोगों को चूना लगाने की कोशिश कर रहा है। लेकिन गनीमत रही है कि ये ठग अपनी कोशिश में कामयाब नहीं हो पाए हैं।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close