देश-दुनिया

थोक महंगाई दर अक्‍टूबर में बढ़कर 8 माह के उच्चतम स्तर पर

www.media24media.com

नई दिल्ली : अक्टूबर, 2020 में थोक महंगाई दर (Inflation rate) सितंबर के मुकाबले बढ़ी है। थोक मूल्य सूचकांक (WPI) आधारित मुद्रास्फीति (Inflation) अक्टूबर में 1.48 फीसदी रही है। बीते महीने यानी सितंबर में ये 1.32 प्रतिशत और उससे पहले अगस्त में ये 0.16 पर थी। अक्टूबर में छोक महंगाई का 1.48 फीसदी पर रहना आठ महीने का सबसे उच्च स्तर है। पिछले साल अक्टूबर में महंगाई दर ज़ीरो थी। भारत सरकार (Indian government) के राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय (एनएसओ) ने सोमवार को इसके आंकड़े जारी किए हैं।

थोक मूल्य सूचकांक पर आधारित महंगाई दर इससे पहले फरवरी में 2.26 फीसदी था। इसके बाद ये लगातार बढ़ी हअक्टूबर में थोक महंगाई दर के आठ माह के उच्चतम स्तर 1.48 फीसदी पर चले जाने में मैन्युफैक्चर्ड प्रोडक्ट्स की कीमतों में तेजी बड़ी वजह मानी गई है। कॉमर्स एवं इंडस्ट्री मिनिस्ट्री के आंकड़ों के मुताबिक अक्टूबर में खाने-पीने की चीजों के दाम कम हुए थे वहीं मैन्युफैक्चर्ड आइटम की कीमतें बढ़ीं। अक्टूबर में खाने-पीने वाली चीजों की महंगाई 6.37 फीसदी रही जो एक महीना पहले 8.17 फीसदी थी।

खुदरा महंगाई दर में भी उछाल

इससे पहले अक्टूबर महीने के खुदरा महंगाई दर के आंकड़े भी सरकार ने जारी किए हैं। भारत में खुदरा मुद्रास्फीति की वृद्धि दर पिछले 6 वर्षों में सबसे ऊंचे स्तर पर है। उपभोक्ता मूल्य सूचकांक (CPI) द्वारा मापा जाने वाला खुदरा मुद्रास्फीति की दर अक्टूबर के महीने में 7.61 प्रतिशत पर पहुंच गई, पिछले महीने यानी सितंबर में यह 7.27 फीसदी रही थी।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close