पड़ताल

Corona मरीजों के फेफड़े क्यों होते हैं खराब ? जाने वजह

www.media24media.com

कोरोना से ठीक होने के बाद भी लोगों को कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। रिकवरी के बाद भी मरीजों के फेफड़े खराब (Lungs in patients) हो रहे हैं, खासकर जिन्हें गंभीर कोरोना संक्रमण (Severe corona infection) हो। शुरूआत  में वैज्ञानिक इसका पता नहीं लगा पा रहे थे लेकिन अब वैज्ञानिकों ने कोरोना मरीजों के फेफड़े के बेकार (Coronary patients’ lung waste) होने की वजह पता लगा ली है।

यह भी पढ़ें : –देश में कोरोना का कहर जारी , कई राज्यों में हो सकता है lockdown

कोरोना वायरस (Corona virus) का गंभीर संक्रमण के वजह से इंसान के फेफड़े बुरी तरह क्षतिग्रस्त (Severely damaged lungs) हो जाते हैं जो रिकवरी के बाद भी ठीक नहीं होते। ब्रिटेन की किंग्स कॉलेज लंदन के वैज्ञानिकों के बताया कि असामान्य कोशिकाओं की वजह से हो रहा है। दरअसल, कोरोना के ज्यादातर मामलों में मरीजों की कोशिकाएं असामान्य तरीके से आपस में जुड़ जाती हैं, जिसके वजह से फेफड़े खराब हो जाते हैं।

90% मामलों में निमोनिया जैसे लक्षण

शोधकर्ताओं ने कोरोना (Corona) की वजह से जान गवां चुके 41 लोगों के फेफड़े, दिल, गुर्दा का विश्लेषण किया, जिसके बाद वायरस के व्यवहार के बारे में जानकारी प्राप्त की गई। इसमें ज्यादातर मामलों में फेफड़े खराब हो चुके थे। वैज्ञानिकों ने कहा कि कोरोना के 90% मामलों में निमोनिया जैसे लक्षण दिखाई दे रहे थे।

आसामान्य कोशिकाओं के अलावा मरीजों के फेफड़ों की धमनियों व शिकाओं में खून के थक्के बनने की दिक्कत भी देखी गई। वहीं, फेफड़ों में बनी आसामान्य कोशिकाएं आपस में जुड़ गई और एक बड़ी एकल कोशिका में बदल गई। इसकी वजह से फेफड़े अपना काम नहीं कर पा रहे थे। इसलिए कोरोना मरीजों को लंबे समय थकान, सांस लेने में तकलीफ जैसी परेशानियां भी हो रही हैं, जिसे ‘लॉन्ग कोविड’ कहते हैं।

वहीं, कर्नाटक में 62 साल के एक बुजुर्ग के फेफड़े लैदर बॉल की तरह सख्त हो गए थे। यही नहीं, बुजुर्ग के फेफड़े ने काम करना भी बंद कर दिया था। फेफड़ों में हवा भरने वाला हिस्सा भी खराब हो चुका था और कोशिकाओं में खून के थक्के बनने लगे थे। इसके कारण बुजुर्ग की मौत की नौबत आ गई थी।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close